दांतों में तार लगाने में खर्च / दांतों में तार लगाने के नुकसान

दांतों में तार लगाने में खर्च / दांतों में तार लगाने के नुकसान – हम टेढ़े-मेढ़े दांतों को सीधा करवाने के लिए डेंटिस्ट के पास जाते हैं. और डेंटिस्ट हमे दांतों को सीधा करवाने के लिए दांतों में तार लगवाने की सलाह देते हैं. ऐसा माना जाता है की दांतों में तार लगवाने से टेढ़े-मेढ़े दांत सीधे हो जाते हैं.

दांतों में तार लगवाने की इस प्रक्रिया को अंग्रेजी में ब्रेसिस के नाम से भी जाना जाता हैं. अगर आप भी दांतों में तार लगवाने के बारे में सोच रहे है. तो हमारा यह आर्टिकल अंत तक जरुर पढ़े.

Danto-me-tar-lgane-me-kharch-nuksan-kimat (1)

दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से दांतों में तार लगाने में खर्च तथा दांतों में तार लगाने के नुकसान के बारे में बताने वाले हैं. इसके अलावा इस टॉपिक से संबंधित अन्य और भी जानकारी प्रदान करने वाले है.

तो आइये हम आपको इस बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करते हैं.

दांतों में तार लगाने में खर्च

दांतों में तीन प्रकार से तार यानि की ब्रेसिस लगाए जाते हैं. जिसका खर्च अलग-अलग होता हैं. हमने नीचे ब्रेसिस का प्रकार सहित खर्चा बताया हैं.

  • मेटल ब्रेसिस – अगर आप मेटल ब्रेसिस लगाते है. तो इसका खर्च लगभग 18000 से लेकर 50,000 तक आ सकता है.
  • सिरेमिक ब्रेसिस – अगर आप सिरेमिक ब्रेसिस लगाते है. तो 30,000 से लेकर 80,000 तक का खर्चा आ सकता है.
  • अलाइनर या इनविसलाइन ब्रेसिस – अगर आप अलाइनर या इनविसलाइन ब्रेसिस लगाते है. तो 80,000 से लेकर 4 लाख तक का खर्चा हो सकता है.

दोस्तों यह जो भी खर्चा हमने बताए है. सभी जगह या हॉस्पिटल में यह खर्चा अलग अलग हो सकता हैं. इस खर्चे में थोडा सा ऊपर-नीचे हो सकता हैं.

काले दांत सफेद कैसे करें –  7 तरीके 

दांतों में तार लगाने के नुकसान

वैसे तो दांतों में तार लगाना एक सुरक्षित प्रक्रिया हैं. लेकिन इसके कुछ नुकसान भी हो सकते हैं. जो हमने नीचे बताए हैं.

  • ब्रेसिस लगाने की वजह से दांतों में खाने के कुछ टुकड़े फंस जाते हैं. अगर दांतों को अच्छी तरह साफ़ न किया जाए. तो दांतों की ऊपरी सतह पर मिनरल खत्म या कम होने लगता हैं. इसकी वजह से दांतों के ऊपर हमेशा के लिए सफ़ेद दाग भी बन सकती हैं. इसके अलावा मसूड़ों की बीमारी या दांतों में सडन की समस्या भी उत्पन्न हो सकती हैं.
  • दांतों के ऊपर से ब्रेसिस निकालने के बाद डॉक्टर के द्वारा रिटेनर पहनने की सलाह दी जाती हैं. अगर आप डॉक्टर के निर्देश का अच्छे से पालन नहीं करते है. या फिर रिटेनर का अच्छे से प्रयोग नहीं करते है. तो आपके दांत फिर से पहले के जैसे हो सकते हैं.

चेहरे पर फिटकरी लगाने के फायदे और नुकसान / दांत दर्द में फिटकरी का उपयोग 

भारत में केवल 4 सामने वाले दांतों के लिए ब्रेसिज़ की कीमत

भारत में केवल 4 सामने वाले दांतों के लिए ब्रेसिज की कीमत लगभग 20,000 से लेकर 25,000 तक हो सकती हैं. लेकिन यह कीमत सभी डेंटिस्ट क्लिनिक के वहा अलग अलग हो सकती हैं.

Danto-me-tar-lgane-me-kharch-nuksan-kimat (3)

शरीर में गांठ क्यों बनती है / शरीर में गांठ के प्रकार और आयुर्वेदिक इलाज

दांतों में तार लगाने का तरीका

दांतों में तार लगाने का संपूर्ण तरीका हमने नीचे बताया हैं.

  • जब भी आप डेंटिस्ट के पास दांतों में तार लगवाने के लिए जाते है. सबसे पहले आपके दांत पोलिश किए जाते हैं.
  • इसके बाद चिक रीट्रेक्टर का इस्तेमाल किया जाता हैं. इसकी वजह से दांत साफ़-साफ दिखाई देते हैं. तथा ब्रेसिस लगाने की प्रक्रिया के दौरान दांत सूखे रहते है.
  • ब्रेकेट को जोड़ने के लिए दांत की सामने वाली सतह पर 30 सेकंड तक कंडिशनर लगाया जाता हैं.
  • इसके बाद कंडिशनर को साफ करके दांतों को फिर से सुखाया जाता हैं.
  • इसके पश्चात जोड़ को मजबूत बनाने के लिए दांतों को चिपकाने वाला प्राइमर नामक पदार्थ लगाया जाता हैं.
  • इसके बाद ब्रेकेट के पीछे सीमेंट लगाकर ब्रेकेट को दांतों के ऊपर निर्धारित जगह पर लगा दिया जाता हैं.
  • जब ब्रेकेट अपनी जगह पर अच्छे तरीके से फिट हो जाते हैं. तब एक्स्ट्रा सीमेंट को हटा दिया जाता हैं.
  • उसके बाद उच्च तीव्र वाली लाइट से ब्रेकेट को अच्छे से मजबूती से चिपकाया जाता हैं.
  • ब्रेकेट लगाने के बाद तार लगाए जाते हैं. जिसमें 10 से 20 मिनिट का समय लगता हैं.
  • यह सभी प्रक्रिया पूर्ण हो जाने के बाद आपके दांतों में हल्का सा पांच से सात घंटे दर्द रह सकता हैं. इसके लिए डॉक्टर आपको दवाई आदि भी दे सकते हैं.

Danto-me-tar-lgane-me-kharch-nuksan-kimat (2)

थायराइड कितने दिन में ठीक हो जाता है / थायराइड टेस्ट की कीमत

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से दांतों में तार लगाने में खर्च तथा दांतों में तार लगाने के नुकसान बारे में बताया हैं. इसके अलावा इस टॉपिक से संबंधित अन्य और भी जानकारी प्रदान की है. हम उम्मीद करते है की आज का हमारा यह आर्टिकल आपके लिए उपयोगी साबित हुआ होगा.

दोस्तों हम आशा करते है की आपको हमारा यह दांतों में तार लगाने में खर्च / दांतों में तार लगाने के नुकसान आर्टिकल अच्छा लगा होगा. धन्यवाद

लिप्स इन्फेक्शन ट्रीटमेंट इन हिंदी होठों पर एलर्जी का इलाज

नाक की चर्बी को कैसे कम करें / नाक छोटी करने की दवा और घरेलू उपचार / नाक की सर्जरी का खर्च

आंखों का धुंधलापन दूर करने के घरेलू उपाय / आँखों की कमजोरी के लक्षण

3 thoughts on “दांतों में तार लगाने में खर्च / दांतों में तार लगाने के नुकसान”

Leave a Comment