धंसी हुई आंखों को बाहर निकालने का तरीका / आँखे अंदर जाने का कारण

धंसी हुई आंखों को बाहर निकालने का तरीका / आँखे अंदर जाने का कारण – अक्सर कई लोगो की आंखे अंदर की तरफ धंस जाती हैं. ऐसा बढती उम्र तथा तनाव के कारण भी हो सकता हैं. आंखे धंस जाने की वजह से आंखो में भारीपन सा लगता हैं. तथा आंखे थकी-थकी सी लगती हैं.

जैसे जैसे हमारी उम्र बढती है. आंखे और तेजी से धंसने लगती हैं. और इससे हमारा चेहरा भी अच्छा नहीं लगता हैं. अगर आपकी भी आंखे धंस रही है. और बाहर निकालना चाहते है. तो इस आर्टिकल को पूरा पढ़े.

Dhansi-hui-aankho-ko-bhar-nikalne-ka-tarika-karan (1)

दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से धंसी हुई आंखों को बाहर निकालने का तरीका बताने वाले हैं. तथा आँखे अंदर जाने का कारण भी बताएगे.

तो आइये हम आपको इस बारे में समूर्ण जानकारी प्रदान करते हैं.

धंसी हुई आंखों को बाहर निकालने का तरीका

अक्सर चिंता, तनाव, नींद पूरी नहीं मिल पाना तथा बढती उम्रे के साथ हमारी आँखे धंसने लगती हैं. हमने धंसी हुई आंखो को बाहर निकालने के कुछ तरीके नीचे बताए हैं.

प्याज से बाल बढ़ाने का तरीका / प्याज का रस कितने दिन लगाना चाहिए

बादाम का तेल धंसी हुई आँखों का इलाज

बादाम का तेल काफी सारे पोषकतत्वों से भरपूर होता हैं. यह हमारे चेहरे के लिए बहुत ही फायदेमंद हैं. साथ साथ धंसी हुई आँखों को बाहर निकालने में उपयोगी हैं. अगर आप की भी आँखे धंसी हुई है.

Dhansi-hui-aankho-ko-bhar-nikalne-ka-tarika-karan (2)

तो बादाम के तेल से दिन में अधिक से अधिक बार आँखों के नीचे मसाज करे. तथा रात को सोने से पहले भी बादाम के तेल से आँखों के नीचे मसाज करके सोए. इससे आपको कुछ ही दिन में फर्क दिखाई देगा.

एक रात में बाल बढ़ाने का तरीका – सम्पूर्ण जानकारी

एवोकाडो तेल धंसी हुई आँखों का इलाज

एवोकोड़ा का तेल आँखों को पोषण देने का काम करता हैं. एवोकोड़ा के तेल से आँखों के नीचे वाले भाग पर रात को सोते समय दों से पांच मिनिट मसाज  करके सो जाए. और सुबह आँखों को अच्छे से धो लीजिए. इससे आपकी धंसी हुई आँखे बाहर आएगी. तथा आपकी त्वचा भी चमकदार और स्वस्थ बनेगी.

वेसलिन से धंसी हुई आँखों का इलाज

जब भी स्किन फट जाती है. तो हम वेसलिन लगाते हैं. वेसलिन स्किन को हाइड्रेट करने का काम करता हैं. रात को सोते समय वेसलिन की पतली परत को अपनी आँखों के चारों तरफ लगाकर छोड़ दीजिए. ऐसा नियमित रूप से करने से धंसी हुई आँखे बाहर निकलेगी तथा त्चचा को भी सुंदरता मिलेगी.

कान में मवाद आने का इलाज / कान बहने की दवा घरेलू उपचार, पतंजलि तथा अंग्रेजी दवा 

नारियल का तेल धंसी हुई आँखों का इलाज

नारियल तेल स्किन को हाइड्रेट करके पोषण देने का काम करता हैं. नारियल तेल से आँखों के नीचे मसाज करे. रात सोने से पहले और दिन में भी दो से तिन बार यह उपाय नियमित रूप से करे. इससे आँखों को प्राकृतिक चमक मिलेगी. और कुछ दिन में आपको फर्क दिखाई देगा.

मछली के तेल की कैप्सूल से धंसी हुई आँखों का इलाज

Dhansi-hui-aankho-ko-bhar-nikalne-ka-tarika-karan (3)

मछली के तेल की कैप्सूल को तोड़कर उसमें मौजूद लिक्विड को अपनी आँखों के नीचे लगाए. इससे धंसी हुई आँखे बाहर निकलने लगेगी. मछली का तेल क्षतिग्रस्त कोशिकाओं को ठीक करने में मददरूप साबित होता हैं.

गोल्ड ब्लीच के फायदे / डायमंड, ओलिविया ब्लीच के फायदे

विटामिन के (Vitamin K) का सेवन धंसी हुई आँखों का इलाज

विटामिन “के” का सेवन करने से धंसी हुई आँखों को बाहर निकालने में मदद मिलती हैं. ब्रोकोली, पालक, गोभी, गाजर, जामुन, आलू, टमाटर आदि में प्रचुर मात्रा में विटामिन “के” पाया जाता हैं. इसलिए इन सभी चीजों का सेवन करना आँखों के लिए फायदेमंद होता हैं.

आँखे अंदर जाने का कारण

आँखे अक्सर बढती उम्र के साथ अंदर चली जाती हैं. जैसे जैसे उम्र बढती है. आँखे भी अंदर जाना शुरू हो जाती हैं. इसके अलावा चिंता, अनिद्रा, तनाव, खराब खान-पान, आहार में गड़बड़ी, पानी कम पीना, शराब का सेवन करना, अधिक मात्रा में व्यसन करना इन सभी कारणों से भी आँखे अंदर चली जाती हैं.

फेशियल के कितने दिन बाद ग्लो आता है / फेशियल के बाद ग्लो कैसे लाए 

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से धंसी हुई आंखों को बाहर निकालने का तरीका बताया हैं. इसके अलावा आँखे अंदर जाने के कारण भी आपको बताए हैं. अगर आप की भी आंखे धंस गई है. तो हमारे द्वारा बताए गए उपाय करने से अवश्य ही आपको लाभ होगा. हम उम्मीद करते है की आप के लिए हमारा यह आर्टिकल उपयोगी साबित हुआ होगा.

दोस्तों हम आशा करते है की आपको हमारा यह धंसी हुई आंखों को बाहर निकालने का तरीका आर्टिकल अच्छा लगा होगा. धन्यवाद

सरसों तेल से बच्चे को गोरा करने का तरीका / मजबूत हड्डियों के लिए सबसे अच्छा बच्चा तेल की मालिश 

एक दिन में कितना चुकंदर खाना चाहिए | चुकंदर का जूस कब पीना चाहिए

खाली पेट खीरा खाने के फायदे और नुकसान / खीरे के जूस के फायदे

3 thoughts on “धंसी हुई आंखों को बाहर निकालने का तरीका / आँखे अंदर जाने का कारण”

Leave a Comment