गर्भपात के लिए तुलसी का काढ़ा कैसे बनाये | गर्भपात के घरेलू उपाय

गर्भपात के लिए तुलसी का काढ़ा कैसे बनाये | गर्भपात के घरेलू उपाय – सबसे पहले तो आपके मन में यह सवाल आता होगा कि क्या तुलसी के पत्तो से गर्भपात हो सकता है. तो हमारा उत्तर  है. हां, यह संभव है. कुछ शोध से ऐसा पता चला है. कि गर्भावस्था के दौरान अगर तुलसी के पत्तो का सेवन कर लिया जाए. तो गर्भाशय में संकुचन पैदा होता है. जो गर्भपात के लिए जिम्मेदार है.

शोध के अनुसार पता चला हैं. कि तुलसी गर्भाशय और श्रोणि क्षेत्र में ब्लड के प्रवाह को उत्प्रेरित कर सकता है. जिससे से गर्भाशय में संकुचन पैदा होता हैं. इतना ही नही तुलसी पत्तो के सेवन से ऑपरेशन के दौरान या फिर बाद ज्यादा खून बहने की समस्या भी हो सकती है. क्योंकि तुलसी खून के थक्के जमने से रोकने का काम करता है.

कई लोगो के मन में सवाल है कि गर्भपात के लिए तुलसी का काढ़ा कैसे बनाया जाता हैं.

दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से गर्भपात के लिए तुलसी का काढ़ा कैसे बनाये | गर्भपात के घरेलू उपाय. यह संपूर्ण जानकारी प्रदान करेंगे.

garbhpat-ke-lie-tulsi-ka-kadha-kaise-bnaye-galeru-upay (1)

गर्भपात के लिए तुलसी का काढ़ा कैसे बनाये

तुलसी काढ़ा बनाने की विधि नीचे दी हुई है.

  1. सबसे पहले दो कप पानी ले. अब एक बर्तन में डालकर हल्का गर्म करें.
  2. अब अदरक, लौंग, काली मिर्च और दाल चीनी को पीसकर पेस्ट तैयार करे.
  3. इस पेस्ट को तुलसी के कुछ पत्तो के साथ उस पानी मे डाल दीजिए.
  4. अब 5 से 10 मिनिट तक इसे गर्म कीजिए.
  5. अब आपका तुलसी का काढ़ा बनकर तैयार है.
  6. गर्भपात के लिए इस काढ़े का सेवन कर सकते हैं.

टाइम बढ़ाने की मेडिसिन पतंजलि, फायदे, नुकसान, प्राइस – सम्पूर्ण जानकारी

यह पोस्ट सिर्फ हमने आपको आपकी जानकारी के लिए दी हैं. ऐसा करना आपके स्वास्थ्य को नुकसान भी पहुंचा सकता है. इसलिए ऐसे घरेलू उपाय करने से पहले अपने डॉक्टर की सलाह जरूर ले.

लेकिन इस काढ़े से गर्भपात हो जाएगा यह संभावना भी कम है.

इसके अलावा भी कुछ घरेलू उपाय आज हम लेकर आए है. जो आपको गर्भपात में मदद रूप साबित हो सकते है.

गर्भपात के घरेलू उपाय

गर्भपात के घरेलू उपाय जो कुछ इस प्रकार है.

कच्चे पपीते से गर्भपात

पपीता में विटामिन ए, विटामिन सी, आयरन जैसे महत्वपूर्ण पोषकतत्व मौजूद होते है. फिर भी पपीता का उन फलों में शामिल किया गया है. जो गर्भावस्था के दौरान नही खाए जा सकते है. क्योंकि पपीता में प्रोस्टाग्लैंडीन और ऑक्सीटोसिन अधिक मात्रा में मौजूद होता है. जो गर्भाशय को संकुचित कर सकता है.

इसलिए कच्चा पपीता गर्भपात करवा सकता हैं.

कौड़ी से पथरी का इलाज | कौड़ी और नींबू से पथरी का इलाज | पथरी के घरेलु उपचार

एस्प्रिन से गर्भपात

गर्भवती महिला को डॉक्टर कुछ मेडिसिन लेने से मना करते है. जिसमें से एक है एस्प्रिन. हालांकि कम मात्रा एस्प्रिन हानिकारक नही है. (60 to 80 mg)

लेकिन कुछ शोध के मुताबिक हाई डोज एस्प्रिन गर्भपात का कारण बन सकता हैं. लेकिन इससे गर्भपात होगा ही इसका कोई पुख्ता सबूत अभी तक मौजुद नही है. अगर आप अनचाही प्रेगनेंसी से छुटकारा पाना चाहते है. तो आपको मेडिकल अबॉर्शन ही करवाना चाहिए.

garbhpat-ke-lie-tulsi-ka-kadha-kaise-bnaye-galeru-upay (2)

एक्यूपंक्चर से गर्भपात

यह बहुत ही प्राचीन पद्धति है. जिसमे शरीर के कुछ अंगों पर प्रेसर देकर दूसरी जगह को प्रभावित किया जा सकता है.

कोलगेट से प्रेगनेंसी टेस्ट कैसे करते हैं – प्रेगनेंसी टेस्ट के घरेलू उपाय और पहचान

ऐसा माना जाता है कि SP4 और L14 इन दोनों बिंदुओं को प्रेस किया जाए तो गर्भपात हो जाता है. लेकिन इसका भी कोई पुख्ता सबूत नही है. कि इस उपाय से गर्भपात होगा या नही.

garbhpat-ke-lie-tulsi-ka-kadha-kaise-bnaye-galeru-upay (3)

गर्भपात से पहले सावधानियां

गर्भपात करने से पहले कुछ सावधानियां रखनी चाहिए जो निम्नलिखित है.

घरेलू उपचार हमेशा स्वास्थ्य के लिए उपयुक्त नही होता. लेकिन इस बीच कुछ परेशानी हो जाए तो डॉक्टर की सलाह जरूर ले.

  1. गर्भपात करने से पहले यह सोच ले कि आप सच में इस के लिए रैडी है. क्योंकि गर्भपात एक महिला के लिए भावनात्मक तथा पीड़ादायक होता है. इसलिए सोच के निर्णय ले.
  2. सबसे पहले देखे की आप स्वस्थ है या नही. अगर स्वस्थ नही है तो ऐसे घरेलू उपाय न करे.
  3. अगर आपको गर्भवती हुए 10 से अधिक सप्ताह हो गए है. तो यह घरेलू उपाय न करे. डॉक्टर की परामर्श लेकर ही आगे बढ़े.
  4. गर्भपात में आपको काफी कष्ट का सामना करना पड़ सकता है. इसलिए डॉक्टर से चर्चा जरूर करे.
  5. गर्भपात असफल होने पर आपको चिकित्सक की मदद तुरंत लेनी चाहिए.
  6. गर्भपात के लिए आपको अधिक उपाय भी करने पड़ सकते है. इसलिए तैयार रहें.

नींबू से प्रेगनेंसी टेस्ट कैसे करें – सम्पूर्ण जानकारी Step by step

ऊपर की सभी सावधानियां आपको ध्यान में रख के गर्भपात के लिए आगे बढ़ना चाहिए. यह अनचाही प्रेगनेंसी पूरी तरह समाप्त कर देगी लेकिन सही से उपयोग करने पर उचित परिणाम मिल सकता है.

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से गर्भपात के लिए तुलसी का काढ़ा कैसे बनाये | गर्भपात के घरेलू उपाय बताया है. यह संपूर्ण जानकारी प्रदान की तथा गर्भपात के और भी कुछ घरेलू उपाय बताए. और आपको बताया कि गर्भपात करने से पहले क्या सावधानी रखनी है. इससे संबंधित संपूर्ण जानकारी आपको दी है.

हम आशा करते है कि आपको हमारा यह आर्टिकल अच्छा लगा होगा. धन्यवाद.

अल्ट्रासाउंड रिपोर्ट बॉय और गर्ल (Baby gender) कैसे पता करे इन हिंदी

एसिडिटी / पेट की गैस को जड़ से खत्म करने के घरेलू उपाय क्या हैं

घबराहट दूर करने का घरेलु उपाय क्या है | चक्कर आना घबराहट होना का इलाज

2 thoughts on “गर्भपात के लिए तुलसी का काढ़ा कैसे बनाये | गर्भपात के घरेलू उपाय”

Leave a Comment